Blog

Mere Man Kee

Mere Man Kee

आज कल चर्चा है इसी बात पर की, ज़माना असहिष्णु होता जा रहा है | कोई वापस देता तमगा है, तो कोई घर छोड़ जा रहा है || मै तो हूँ अचंभित, सब को दिख रही असहिष्णुता, दुम दबा के मुझसे ही, क्यों भगा जा रहा है || मैंने खोजा सब जगह, खेत-खलिहान, बाग़-बगीचे | […]